Home TECH Pan Card Cancellation : अगर आपका भी पैन कार्ड रद्द हो गया है तो ये खुशखबरी

Pan Card Cancellation : अगर आपका भी पैन कार्ड रद्द हो गया है तो ये खुशखबरी

0
Pan Card Cancellation : अगर आपका भी पैन कार्ड रद्द हो गया है तो ये खुशखबरी

Pan Card Cancellation : अगर आपका भी पैन कार्ड रद्द हो गया है तो ये खुशखबरी

नई दिल्ली: अगर आपका भी पैन कार्ड रद्द हो गया है तो एक बार फिर ये खबर किसी खुशखबरी से कम नहीं होनी चाहिए, क्योंकि सरकार ने अब ऐसे लोगों की फोटो बैलेट कर ली है. अगर आपने तय तारीख तक पैन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक नहीं किया है तो अब चिंता न करें। इसकी वजह ये है कि सरकार ने अब एक ऐसा एक्साइज नियम बनाया है, जिसे जानकर आप हैरान रह जाएंगे.

आप घर बैठे भी अपना पैन कार्ड एक्टिवेट करा सकते हैं, जिसके लिए आपको कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखना होगा। अगर किसी कारणवश आपके पास एक्टिवेट पैन कार्ड नहीं है तो आपको परेशानी का सामना करना पड़ेगा। आपके महत्वपूर्ण काम बीच में ही अटक जायेंगे। इसलिए पैन कार्ड से जुड़ी जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल नीचे तक पढ़ें।
लड़का हो या लड़की हर कोई यामाहा के इस कमाल के आइडिया का दीवाना हो रहा है
जानिए पैन कार्ड से जुड़ी जरूरी बातें

ईसाई विभाग ने पैन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक करना जरूरी कर दिया था. ईसाई विभाग ने अपने काम के लिए कई बार तारीखें तय कीं और लोगों को काफी समय सीमा दी। इसके बावजूद बड़ी संख्या में लोगों ने पैन कार्ड को आधार से लिंक नहीं कराया है. अब ऐसे लोगों का पैन कार्ड रद्द किया जा रहा है, जिसके बिना सारे काम बीच में ही रुक जाएंगे.

अगर आप पैन कार्ड अपडेट करना चाहते हैं तो आपको कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखना होगा। आप जल्द ही अपना पैन कार्ड एक्टिवेट करा सकते हैं, जिसके लिए आपको कुल 1,000 रुपये का जुर्माना देना होगा। आवेदन करने के एक महीने बाद आपका पैन कार्ड एक्टिवेट हो जाएगा, जिससे आप अपना कोई भी काम करा सकेंगे।

बिना रुके पैन कार्ड के जरूरी काम

अगर आपके पास एक्टिव पैन कार्ड नहीं है तो कुछ जरूरी काम बीच में लटक जाएंगे, जिससे आपको कोई बैंक खाता या आईटीआर नहीं भरना पड़ेगा। इसलिए जरूरी है कि आप जन सुविधा केंद्र के उपभोक्ता तुरंत ये काम निपटा लें, नहीं तो परेशानी हो जाएगी. आवेदन के एक महीने बाद पैन एक्टिवेशन कार्ड मिल जाएगा.

पैन कार्ड पात्रता आवश्यकताएँ क्या हैं?


आयकर अधिनियम का यू/एस139ए, धारा 139ए के तहत पैन कार्ड के लिए पात्र संगठनों की एक सूची प्रदान करता है। कोई भी व्यक्ति जिसकी वार्षिक आय कर-मुक्त आय की सीमा से अधिक है। एक व्यवसाय स्वामी जिसका वार्षिक राजस्व 5 लाख रुपये से अधिक है प्रत्येक हिंदू अविभाजित परिवार (एचयूएफ) जहां कर्ता या परिवार का मुखिया हस्ताक्षरकर्ता है।
कोई भी संगठन, जिसमें एकल स्वामित्व, एलएलपी, एओपी/बीओआई आदि शामिल हैं। कोई दान समूह, ट्रस्ट या संगठन। भविष्य में करदाता बनने वाले किसी भी नाबालिग के लिए भी पैन कार्ड प्राप्त किया जाना चाहिए। इससे पता चलता है कि आवेदन करने में कोई बाधा नहीं है। लगभग सभी भारतीय नागरिकों और अनिवासी भारतीयों को यह दस्तावेज़ प्राप्त करना होगा। हालाँकि, इतने सारे अलग-अलग प्रकार के पैन कार्ड धारकों के साथ, अधिकारियों ने पैन कार्ड प्रकारों को वर्गीकृत करने के लिए कई प्रकार के वर्गीकरण विकसित किए हैं।

पैन कार्ड कितने प्रकार के होते हैं?


विभिन्न प्रकार की कर भुगतान करने वाली संस्थाओं के पास अलग-अलग पैन कार्ड होते हैं। इस श्रेणी की पहचान करने के लिए प्रत्येक पैन के चौथे अक्षर का उपयोग किया जा सकता है, जो विभिन्न संस्थाओं के लिए अलग-अलग होता है। यहां विभिन्न अक्षरों और उनके संबंधित अर्थों का संक्षिप्त विश्लेषण दिया गया है।

G: Government Institution

J: Artificial Juridical People

P: Individual

C: Corporation

A: Association of Persons (AOP)

E: Limited Liability Partnership (LLP)

B: Body of Individuals (BOI)

F: Partnership Business

T: Trust

H: Hindu Undivided Family (HUF)

L: Local Authority

Apply Pan Card :- Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here